State

सुरक्षाबलों ने एक मुठभेड़ में इनामी नक्सलियों को ढेर किया

रायपुर/जनदखल. छत्तीसगढ़ में अब नक्सलियों का दबदबा कम होते जा रहा है। मांदागिरी और संदबाहरा की पहाड़ी पर हुई मुठभेड़ के बाद सत्यम गावड़े सहित अन्य नक्सलियों पर अपराध दर्ज किया गया है। जिले में पहली बार बड़ी सफलता मिलने के बाद इस क्षेत्र में सर्चिंग तेज कर सुरक्षाबलों ने करीब 50 गांवों को घेरा गया है। जिले में 15 दिन के भीतर मुठभेड़ में 20 लाख के 5 इनामी नक्सलियों का ढेर किया। इस मुठभेड़ में चारों नक्सलियों के अलावा सत्यम गावड़े, कार्तिक उर्फ दशरु, टिकेश, जानसी, शांति, रामदास समेत 20 नक्सली शामिल थे।

नक्सल ऑपरेशन के डीआईजी ने कहा कि नक्सली अक्सर मुठभेड़ के बाद इलाके को छोड़कर सुरक्षित ठिकानों की ओर भाग निकलते हैं। बस्तर में लगातार फोर्स का दबाव बढ़ता जा रहा। ऐसे में नक्सली नए ठिकाने ढूंढते हुए सुरक्षित स्थान चुनते है। धमतरी, कांकेर, गरियाबंद, उड़ीसा से लगा है। ऐसे में धमतरी के जंगल को नक्सली सुरक्षित जगह मान रहे। हालांकि ऐसा होने नहीं दिया जाएगा। हमारे जवान उन्हें हर स्थिति में उन्हें टिकने नहीं देंगे। नक्सली हथियार छोड़कर मुख्यधारा में जुड़ना चाहे, तो उनका स्वागत हैं। पर हिंसक वारदात को अंजाम देने की कोशिश की, तो सुरक्षाबल उन्हें हर स्थिति में जवाब देंगे।

Leave a Comment