State

गांधी जयंती पर होने वाले विशेष सत्र को शीतकालीन सत्र में बदलने की तैयारी

रायपुर/जनदखल. 2 अक्टूबर को गांधी जयंती पर बुलाए जाने वाले विधानसभा के विशेष सत्र को अब शीतकालीन सत्र में बदलने की तैयारी चल रही है। एक दिन के सत्र को बढ़ाकर 4 दिन किया जा सकता है। मिली जानकारी के अनुसार विधानसभा अध्यक्ष चरणदास महंत ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती 2 अक्टूबर को एक विशेष सत्र बुलाने की घोषणा की है।

इस सत्र को पहले तो विशेष सत्र का दर्जा दिया जाना निश्चित था लेकिन अब ऐसे संकेत मिल रहें हैं कि इसकी अवधी बढ़ाई जाएगी। यह सत्र 4 से 5 दिन तक आयोजित किया जा सकता है। सत्तारूढ़ दल चाहता है कि इस विशेष सत्र में ही सभी कुछ निपटाया जाए इसके पश्चात बजट सत्र बुलाया जाएगा ताकि इसके लिए एक दीर्घ अवधि सरकार को मिल सके। विधानसभा के सचिव के अनुसार सत्र बुलाना सरकार का दायित्व है इस संबंध में अभी कोई अधिसूचना जारी नहीं हुई है इसलिए इस संबंध में वे कोई टिप्पणी नहीं करना चाहते।

सत्र के 22 दिन पहले अधिसूचना जारी की जाती है। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि यदि विशेष सत्र को भी शीतकालीन सत्र के रूप में बदला जाएगा तो हम इसका विरोध करेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार अब गैर प्रजातांत्रिक काम कर रही है जो कि अनुचित है। इधर जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ ने भी सरकार के फैसले पर नजर रखने का निर्णय लिया है।

Leave a Comment