State

सरकारी कार्यालयों की छतों में सौर ऊर्जा प्लांट लगाने की कवायद

बिलासपुर/जनदखल. अगले कुछ महीनों में शहर के 60 सरकारी कार्यालयों की छतों में सौर ऊर्जा से बिजली बनाने के लिए प्लांट लगाए जाएंगे। इसके लिए क्रेडा रायपुर की ओर से टेंडर किया जा रहा है। बिजली बचाने की दृष्टि से सौर ऊर्जा के इस्तेमाल को बढ़ावा देने के लिए बिलासपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड और क्रेडा मिलकर काम करेंगे। सोलर प्लांट रेस्को मॉडल के तहत लगाए जाएंगे। इसके लिए संबंधित विभाग या संस्था को किसी भी प्रकार का कोई खर्च वहन नहीं करना पड़ेगा।

इसको लेकर स्मार्ट सिटी कार्यालय में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया,जिसमें क्रेडा के मुख्य अभियंता संजीव जैन ने जानकारी दी। स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत शहर के शासकीय भवनों में ग्रिड कनेक्टेड सोलर प्लांट लगाया जाना है, जिसके लिए स्मार्ट सिटी की टीम तैयारी कर रही है। कार्यशाला में बताया गया कि कैसे रेस्को मॉडल के तहत शासकीय कार्यालय भवनों की छतों में ग्रिड कनेक्टेड सोलर प्लांट लगाया जाएगा।

सौर संयंत्रों से उत्पादित होने वाले बिजली का उपयोग भवनों की आवश्यकता अनुसार किया जाएगा। उपयोग होने के पश्चात शेष बची हुई बिजली को छ.ग.स्टेट पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड की ग्रिड में प्रवाहित किया जाएगा, ताकि उसका उपयोग हो सके। स्थापनाकर्ता इकाई द्वारा छ.ग.स्टेट पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड की वर्तमान में प्रचलित दरों से कम दरों पर बिजली उपलब्ध कराई जाएगी।जिससे बिजली में होने वाले खर्च में कमी आने की संभावना है। इसमें 100 वर्ग फुट की छत में एक किलोवाट क्षमता का सोलर प्लांट लगाया जा सकेगा।

Leave a Comment