State

अंतागढ़ टेपकांड मामले में फिरोज सिद्दीकी ने बताया खुद की जान को खतरा

रायपुर/जनदखल. अंतागढ़ टेपकांड मामले के गवाह फिरोज सिद्दीकी ने अपनी जान क खतरा बताया है। उन्होंने आईएएस और राजस्व विभाग के अधिकारियों सहित राजनीतिक दल के सदस्यों पर षड्यंत्र रचने का आरोप लगाया है। उन्होंने आशंका जाहिर की है कि सड़क दुर्घटना में उन्हें मारा जा सकता है। इसके साथ ही उन्होंने एसआईटी जांच को लेकर भी सवाल उठाया है। फिरोज ने कहा है कि एसआईटी सही दिशा में काम करे इसे लेकर वे सुप्रीम कोर्ट जाएंगे।

साल 2014 में कांकेर जिले के अंतागढ़ के तत्कालीन विधायक विक्रम उसेंडी ने लोकसभा का चुनाव जीतने के बाद इस्तीफा दिया था। जिसके बाद वहां उपचुनाव के लिए कांग्रेस ने पूर्व विधायक मंतू राम पवार को प्रत्याशी बनाया था। लेकिन नाम वापसी के अंतिम वक्त पर मंतूराम ने अपना नामांकन वापस ले लिया था। जिससे भाजपा को एक तरह का वाकओवर मिल गया था। बाद में फिरोज सिद्दीकी नाम से एक व्यक्ति का फोन कॉल वायरल हुआ था। तब से ही इस मामले की जांच चल रही है, इसमें कई बड़े नेताओं के नाम भी सामने आए हैं।

Leave a Comment