State

प्रमुख विषयों की पढ़ाई मल्टीमीडिया से करने की तैयारी में शिक्षा विभाग

रायपुर/जनदखल. स्कूल स्तर की शिक्षा में परिवर्तन की तैयारी है। इसके अंतर्गत 9वीं और 10वीं के प्रमुख विषयों की पढ़ाई मल्टीमीडिया और से प्राइमरी स्कूल में स्थानीय बोलियों को शामिल किया जाएगा। इससे छात्रों को सभी विषयों को समझने में और ज्यादा आसानी होगी और वह टेक्नो फ्रेंडली भी हो सकेंगे। इनोवेटिव एक्टिविटी से छात्रों को बहुत अधिक फायदा होने की उम्मीद की जा रही है। उन्हें सैद्धांतिक पढ़ाई के साथ साथ प्रायोगिक तौर पर अपने पाठ्यक्रमों को समझने में सहायता मिलेगी।

शिक्षा के स्तर का आंकलन करने के लिए स्टेट लेवल असेस्मेंट मोबाइल के जरिए किया जाएगा। उपलब्धियों को देखा जाएगा। उनकी लर्निंग के प्रोसेस को परखा जाएगा। इसमें प्राइमरी और मिडिल स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों का सतत मूल्यांकन किया जाएगा। उनके प्रश्न पत्रों का मूल्यांकन भी मोबाइल एप के जरिए करने का प्रस्ताव है। मोबाइल से ऑनलाइन डाटा तैयार किया जाएगा और वेबसाइट पर अपलोड करेंगे।

खासकर 9वीं और 10वीं कक्षा की किताबों को मल्टी मीडिया में कन्वर्ट किया जाएगा। हर चैप्टर के लिए विशेषज्ञों ने ऑडियो और वीडियो के जरिए कंटेंट उपलब्ध कराया है। विजुअल और साउंड इफेक्ट से बच्चों को विषयों के संबंध में अच्छी जानकारी मिलने की उम्मीद की जा रही है। इससे उन्हें किसी भी नई चीज को जानने, समझने और उसे याद करने में अधिक आसानी होगी। छात्रों की सुविधा के लिए पाठ्य पुस्तक में बोलियों का भी उपयोग किया जा रहा है। इसके लिए दीक्षा एप का उपयोग किया जाएगा।

Leave a Comment