State

बिलासपुर से डाक्टर हुआ गायब, बैग से मिले पत्र में मानसिक प्रताड़ना की बात

रायपुर/जनदखल. शहर से एक डॉक्टर के गायब होने का मामला सामने आया है। परिजन व पुलिस उनकी तलाश कर रहे हैं। उनकी बैग से 7 चिट्ठियां मिली है। इसमें एक दंपति, प्रॉपर्टी डीलर व राजस्व अधिकारी का नाम है। इन पर जमीन हड़पने व मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप है। पीएम, सीएम गृहमंत्री, राजस्व मंत्री व डीजीपी, कलेक्टर,आईजी,एसपी सुप्रीम कोर्ट व हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस सहित पुलिस व प्रशासन के अफसरों से न्याय की गुहार लगाई है। गायब होने पर पत्नी ने सिविल लाइन थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई है।

मूलतः पेंड्रा निवासी डॉक्टर प्रकाश सुल्तानिया (एमडी मेडिसिन) शुभम् विहार कॉलोनी में रहकर मगरपारा रोड के एक हॉस्पिटल में प्रैक्टिस करते हैं। बुधवार सुबह रोज की तरह घर से हॉस्पिटल के लिए निकले। इसके बाद उनका पता नहीं चल पाया। सुबह 11 बजे उनके मोबाइल का आखिरी लोकेशन मसानगंज में मिला। उनकी बाइक मिशन अस्पताल रोड स्थित मार्क हॉस्पिटल के पास खड़ी मिली। उन्होंने मंगला में अपने दोस्त के यहां बैग छोड़ा था। इसमें अंग्रेजी में टाइप किया हुआ सुसाइड नोट मिला। यह अलग अलग 7 लिफाफों में बंद था। उन्होंने पत्नी के नाम से भी चिट्‌ठी छोड़ी है। उसके गायब होने के बाद घरवालों ने खोजबीन शुरू की। पता नहीं चला तो पुलिस के पास गए।

पत्नी के गुमशुदगी दर्ज कराने के बाद पुलिस ने खोजबीन शुरू की। देर रात तक उनका पता नहीं चला था। चिट्‌ठी को पुलिस ने जब्त कर लिया है। डॉक्टर प्रकाश ने एसपी को संबोधित पत्र में लिखा है कि उसने खमतराई मोड़ पर चांटीडीह सीपत मुख्य मार्ग पर सितंबर 2017 में 3669 वर्ग फीट जमीन राजेश अग्रवाल और संगीता अग्रवाल से खरीदी थी। जब इसमें निर्माण कार्य शुरू कराया तो जमीन दलाल प्रमोद यादव, बर्खास्त आरआई मथुरा कश्यप ने मिलकर कई तरह से परेशान करना शुरू कर दिया।

Leave a Comment