State

चिटफंड कंपनियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिये मुख्यमंत्री ने

रायपुर/जनदखल. सीएम भूपेश बघेल ने कलेक्टरों की कान्फ्रेंस की जिसमें उन्होंने कई मुद्दों पर जानकारी ली और निर्देश दिए। इस बैठक में चिटफंड कंपनियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की बात कही। उन्होंने कहा कि चिटफंड कंपनियों की संपत्ति कुर्की हेतु लंबित 44 प्रकरणों पर गंभीरता से इस महीने के अंत तक कार्रवाई करने के लिए कलेक्टरों को निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने प्रदेश में माइक्रो फाइनेंस का कार्य करने वाली संस्थाओ की पूरी जानकारी रखने के लिए कलेक्टर- एसपी को निर्देश दिए। सीएम ने कहा कि चिटफंड और माइक्रो फाइनेंस कंपनियों द्वारा आम जनता ठगी का शिकार न हों।

मुख्यमंत्री ने पुलिस अफसरों को बेसिक पुलिसिंग को मजबूत करने के निर्देश दिए। सीएम ने कहा कि महिलाओ और बच्चों की सुरक्षा के लिए थाना प्रभारी और आरक्षकों संवेदनशील बने। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को नियम- कानूनों के संबंध में अपडेट रहने को कहा। साथ ही नियमित रूप से नियम-कानूनों की किताबों को पढ़ने की भी बात कही।

दूसरी तरफ, मुख्यमंत्री ने विद्युत संबंधी शिकायतों पर अपनी नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने कहा कि हॉल ही में सरगुजा संभाग के दौरे के समय विद्युत संबंधी अनेक समस्याएं वहां के नागरिकों और जनप्रतिनिधियों से मिली थी। शिकायतों की गंभीरता को देखते हुए संभाग के दो अधीक्षण यंत्री (एस.ई.) तथा सात डिवीजनल इंजीनियर (डी.ई.) को निलंबित किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा राज्य में बिजली का पर्याप्त उत्पादन होता है फिर भी ऐसी शिकायतों का आना खेदजनक है। मुख्यमंत्री ने कहा अगर संबंधित अधिकारियों द्वारा विद्युत संबंधी गड़बड़ी एवं शिकायतों को दूर नहीं किया गया तो उनके विरूद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Comment