State

छत्तीसगढ़ में मानसून ने दी दस्तक, बारिश से मौसम हुआ सुहाना

रायपुर/जनदखल. दक्षिण-पश्चिम मानसून ने प्रदेश को अपनी जद में ले लिया है। बस्तर से रायपुर होते हुए यह उत्तरी छत्तीसगढ़ के बलरामपुर, सूरजपुर और कोरिया के आधे से ज्यादा हिस्से में सक्रिय हो गया। वैसे मानसून को बस्तर से रायपुर आने में करीब दो दिन और पूरे प्रदेश में सक्रिय होने में 3 दिन लगते हैं। इस साल 21 जून को मानसून बस्तर पहुंचा और 22 जून को उत्तरी छत्तीसगढ़ पहुंच गया।

छत्तीसगढ़ में मानसून की एंट्री धमाकेदार रही। धमतरी, मैनपाट, बलरामपुर में डेढ़ सौ मिलीमीटर बारिश हुई। पूरे राज्य में 78 मिमी बारिश हुई। ये सामान्य से करीब 26 फीसदी कम है। राजधानी में दिनभर बादल छाए रहे। सुबह करीब 11 बजे तक बूंदाबांदी होती रही। बीते 2 माह से प्रदेश में तापमान 40 डिग्री से ऊपर बना हुआ था, बारिश होते ही पारा 10 डिग्री तक गिर गया।

विशेषज्ञों के अनुसार ओडिशा से झारखंड होते हुए उत्तरी छत्तीसगढ़ तक बनी कम दबाव की पट्टी ने मानसून को तेजी से आगे धकेला और वह एक ही दिन में बस्तर से कोरिया तक पहुंच गया। इसलिए प्रदेश में झमाझम हो रही है। 1 से 22 जून तक पूरे छत्तीसगढ़ में औसत 78 मिमी बारिश हो गई है। यह सामान्य से 26% कम है। 22 दिनों में औसत 106 मिमी बारिश हो जानी चाहिए। राज्य में सबसे ज्यादा धमतरी में बारिश हो चुकी है। यहां औसत से 115% ज्यादा बारिश हो चुकी है।

Leave a Comment