State

मिड डे मिल मामले में कलेक्टर ने दिया आश्वासन, कबीरपंथियों का धरना स्थगित

रायपुर/जनदखल. मिड डे मील में बच्चों को अंडा देने का फैसला सरकार को महंगा पड़ रहा है। इसके विरोध में एक के बाद संगठन आते जा रहे हैं। बच्चों को अच्छा भोजन देने के लिए सरकार यह योजना लेकर आई थी. सरकार के इस फैसले के खिलाफ कबीरपंथियों के गुरु प्रकाश मुनि ने कलेक्टर के आश्वासन के बाद 3 दिनों के लिए धरना स्थगित कर दिया है। प्रकाश मुनि साहेब ने कहा तीन दिन में मांगे नहीं मानी गई तो आने वाले दिनों में चक्का जाम किया जाएगा। दामाखेड़ में कबीरपंथियों के गुरु प्रकाशमुनी नाम साहब ने 13 घंटे के बाद नेशनल हाईवे से चक्का जामा व धरना प्रदर्शन समाप्त कर दिया।

प्रदेश सरकार के मंगलवार को जारी किए गए नए निर्देश को भी किनारे करते हुए स्कूलों के मध्यान्ह भोजन में अंडा दिए जाने के विरोध में प्रकाश मुनि के साथ हजारों कबीरपंथियों ने दामाखेड़ा में नेशनल हाईवे जाम कर दिया था। प्रकाश मुनि ने पहले ही प्रदेश सरकार को स्कूलों में अंडा दिए जाने का विरोध करते हुए सरकार से 16 जुलाई तक ओदश वापस लेने के लिए कहा था।

सरकार ने अपना आदेश तो वापस नहीं लिया लेकिन मामले में एक नया दिशा-निर्देश जरूर जारी किया। इसे कबीरपंथियों ने सिरे से खारिज कर दिया है। प्रकाश मुनि के आव्हान पर रात को ही हजारों की संख्या में कबीरपंथी जुटे और चक्काजाम कर दिया। चक्काजाम होने से रायपुर और बिलासपुर की तरफ से आने वाले वाहनों की लंबी कतार लग गई। कबीरपंथियों का साफ कहना है, चक्काजाम तब तक समाप्त नहीं होगा, जब तक सरकार स्कूलों में अंडा देने का अपना आदेश वापस नहीं लेती है।

Leave a Comment