Entertainment

बॉलीवुड की ग्लैम डॉल नहीं बनना चाहती अल्फिया

bollywood news

मुंबई। ब्यूटी एंड ब्रेन, ये दो पॉवरफुल शब्द किसी इंसान के पूरे व्यक्त्त्वि की तस्वीर दिखा देते हैं। ब्यूटी का इस्तेमाल आमतौर पर लड़कियों के लिए होता है, लेकिन अगर वो लड़की ग्लैमर की दुनिया से जुड़ी हो, तो कहने ही क्या। यहां हम बात करेंगे फिल्म ‘जिहाद’ की अभिनेत्री अल्फिया की, जिनकी बोल्डनेस भी बोलती है। अल्फिया कई नेशनल व इंटरनेशनल अवार्ड जीत चुकी है जिनमें से माल्टा इंटरनेशनल, मेवरिक मूवी लॉस एंजिल्स, सिनेमा लंदन, बेयर बोनस यूएसए फिल्म फेस्टिवल, एनआरआई अचीवर्स जैसे अवार्ड शामिल हैं। 

टाइम्स नेटवर्क द्वारा प्रस्तुत “यंग अचीवर ऑफ द ईयर” के रूप में मार्केटिंग उत्कृष्टता के लिए उन्हें पुरस्कार मिल चूका है। उनकी हिंदी फीचर फिल्म ‘जिहाद’ कई अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोहों में पुरस्कार भी जीतती रही है। इस फिल्म को 71 वें अंतर्राष्ट्रीय कान फिल्म महोत्सव में भी स्क्रीनिंग के लिए आधिकारिक तौर पर चुना गया था। आपको बता दें कि फिल्‍म ‘जिहाद’ एक महत्वपूर्ण मैसेज देने वाली फिल्‍म है, जो इसके नाम पर भटके लोगों को राह दिखाती है। 

दुनिया भर में चर्चा का विषय बन चुकी फिल्‍म ‘जिहाद’ में अल्फिया फीमेल लीड थीं। विभिन्‍न फिल्‍मोत्‍सवों में न केवल इसे दिखाया गया बल्कि इसे दर्शकों और क्रिटिक्स का खूब प्यार भी मिला और इसे कई अवार्ड्स भी मिले। उन्होंने प्रतिष्ठित कल्ट क्रिटिक फिल्म फेस्टिवल 2018 में सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार जीता। अल्फिया गोल्डन गाउन के साथ कान में रेड कारपेट पर वाक आकर्षण का केंद्र बन चुकी हैं।  इंटरनेशनल अवॉर्ड विनिंग एक्ट्रेस होने के अलावा अल्फिया एक अवार्ड विनिंग डिजिटल मीडिया एंटरप्रेन्योर और एक सिंगर भी हैं। दुबई में जन्मी और पली बढ़ी अल्फिया कहती हैं कि दुबई से हमारी फॅमिली बेंगलुरु शिफ्ट हो गई थी वहीँ से मैंने हाई स्कूल और फिर कॉलेज में पढाई की। मॉडल के रूप में कई रैम्प शोज़ किये फिर 2015 में मुंबई आ गईं। अल्फिया ने लॉस एंजिल्स की प्रतिष्ठित न्यूयॉर्क फिल्म अकादमी से अभिनय की बारीकियां सीखी हैं। 

ह बेली डांसिंग और हिपहॉप में भी प्रशिक्षित हैं। फिल्म ‘जिहाद’ को अपनी पहली फिल्म के रूप में चुनने के सवाल पर अल्फिया कहती हैं कि मैं सिर्फ एक ग्लैम डॉल का रोल नहीं करना चाहती थी, इसलिए जब मुझे ‘जिहाद’ ऑफर हुई तो न सिर्फ फिल्म की कहानी मुझे अच्छी लगी बल्कि मेरा रोल भी काफी बेहतर था। इसके अलावा यह फिल्म एक बेहतरीन मैसेज भी देती है, इसलिए मैंने इस फिल्म से बॉलीवुड में अपनी शुरुआत की।

Leave a Comment