Big news

उन्नाव मामला, पीड़िता की कार में टक्कर लगने के मामले में ड्राइवर का नार्को टेस्ट

लखनऊ/जनदखल. उन्नाव रेप पीड़िता की कार में टक्कर लगने के मामले की जांच कर सीबीआई ने गांधीनगर में ट्रक ड्राइवर और क्लीनर का नार्को टेस्ट शुरू कराया। अब सोमवार को भी यह प्रक्रिया जारी रहेगी। सीबीआई सूत्रों का कहना है कि नार्को टेस्ट के लिये विशेषज्ञों से 90 सवाल तैयार कराये गये थे। हालांकि इसमें से कई सवाल दोनों आरोपियों से सीबीआई पहले ही पूछ चुकी है। हादसे की जांच पूरी करने में कई बिन्दुओं पर पूछताछ ठीक से नहीं हो सकी थी। इसके बाद ही नार्को टेस्ट और ब्रेन मैपिंग कराने का निर्णय लिया गया था।

घटना के दिन कार में टक्कर लगने के समय ड्राइवर अशोक कुमार पाल ही ट्रक चला रहा था। क्लीनर मोहन श्रीनिवास साथ में मौजूद था। नाटय रूपान्तरण में भी कई चीजें साफ नहीं हो सकी थी। क्योंकि जब घटना हुई थी तब तेज बारिश हो रही थी। रूपान्तरण के समय बारिश न होने की वजह से ट्रक के टायरों की रगड़ और फिसलने पर ठीक से फोरेंसिक विशेषज्ञ निर्णय नहीं ले सके थे।

ड्राइवर और क्लीनर की रिमाण्ड पहले तीन दिन की थी। फिर इसे दो दिन बढ़ाया गया। इसके बाद 14 अगस्त तक के लिये रिमाण्ड की अनुमति कोर्ट ने और दे दी थी। वहीं इस हादसे की जांच रिपोर्ट सीबीआई को आठ अगस्त को सौंपनी थी। पर, अब माना जा रहा है कि यह रिपोर्ट 15 अगस्त के बाद ही तैयार हो सकेगी।

Leave a Comment