Big news

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर बोले पीएम- अब भारत एक राष्ट्र, एक संविधान वाला देश है

नई दिल्ली/जनदखल. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर से स्वतंत्रता दिवस के मौके पर जब देश को संबोधित किया तो उन्होंने एक महत्वपूर्ण सैन्य सुधार को घोषणा की। वह सुधार जो पिछले करीब दो दशक से लंबित पड़ी थी। इसके साथ ही, उन्होंने जम्मू कश्मीर से विशेष दर्जा खत्म करने पर उनकी आलोचना करने वालों पर भी उन्होंने हमला बोला और यह वादा किया कि भारत की करोड़ों जनता की बेहतर जिंदगी के लिए वह काम करते रहेंगे।

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के कई प्रावधान हटाने और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने के सरकार के कदम की पृष्ठभूमि में प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार की यह जिम्मेदरी है कि जम्मू-कश्मीर एवं लद्दाख के लोगों के सपनों को पंख लगे और उनकी सभी अकांक्षाएं एवं आशाएं पूरी हों। प्रधानमंत्री ने 73वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर लाल किले की प्राचीर से देश को संबोधित करते हुए कहा कि अब भारत ‘एक राष्ट्र, एक संविधान वाला देश है। उन्होंने कहा- हम समस्याओं को टालते भी नहीं और पालते भी नहीं हैं। अब न टालने का समय है और न ही पालने का समय है। सरकार बनने के 70 दिनों भीतर संसद के दोनों सदनों ने अनुच्छेद 370 और 35ए को हटाने का निर्णय का अनुमोदन किया।

मोदी ने कहा- मेरा कोई निजी एजेंडा नहीं है। देशवासियों ने जो काम दिया, हम उसे पूरा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर के पुनर्गठन को लेकर हर सरकार ने कुछ न कुछ प्रयास किया, लेकिन इच्छा के अनुरूप परिणाम नहीं मिले हैं। जो लोग अनुच्छेद 370 की वकालत कर रहे हैं उनसे देश पूछ रहा है कि अगर यह इतना महत्वपूर्ण था तो इसे आप लोगों ने स्थायी क्यों नहीं किया, अस्थायी क्यों बनाए रखा? उन्होंने कहा, ”हम अलग तरह से सोचते हैं और हमारे लिए ‘इंडिया फर्स्ट है।

Leave a Comment