Big news

6 जून को मानसून पहुंचेगा केरल के तट पर, राजस्थान में पारा 50 डिग्री के पार

पुणे/जनदखल. पूरे देशभर में भीषण गर्मी का कहर है। मगर इस बीच देशवासियों के लिए के लिए अच्‍छी खबर है, मौसम विभाग के मुताबिक आगामी छह जून को मॉनसून केरल तट पर पहुंच सकता है। हालांकि शुरुआती दिनों में मॉनसूनी बारिश सामान्‍य से कम रह सकती है। इस साल केरल में मॉनसूनी बारिश देरी से होने के आसार हैं, जिसका असर पूरे देश पर पड़ेगा। मौसम विभाग के अधिकारी ने कहा- मॉनसून आने के बाद उसकी रफ्तार धीमी रह सकती है। अनुमानों के मुताबिक आठ जून के बाद मॉनसून जोर पकड़ सकता है।

अनुमान के अनुसार केरल में मॉनसून कुछ दिन देरी से आएगा। हालांकि मॉनसून तेजी से बदलता है, लेकिन अगर पश्चिमी तट पर उसकी प्रगति तेज रही तो मॉनसून आने में ज्‍यादा देरी नहीं होगी। मॉनसून के जोर पकड़ने के लिए यह जरूरी है कि पश्चिमी हवाएं दक्षिण पूर्व अरब सागर में डिवेलप हों जो अभी तक नहीं हो रहा है। इसलिए केरल में सात जून तक मॉनसून आ सकता है। मॉनसून के आने के बाद उसकी प्रगति बहुत धीमी रह सकती है, इसलिए हम जून के पहले पखवाड़े में ज्‍यादा बारिश की संभावना नहीं है।

भारत के अधिकतर हिस्सो में भीषण गर्मी थी। पश्चिमी राजस्थान में पारा 51 डिग्री के करीब था, जबकि उत्तर प्रदेश यह 48 डिग्री सेल्सियस को पार कर गया। दूसरी तरफ असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर और मिजोरम समेत समूचे पूर्वोत्तर भारत में बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली समेत उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब, बिहार और अन्य राज्यों में अभी गर्मी पड़ने वाली है।

Leave a Comment