Big news

जम्मू कश्मीर में ईद के मौके पर नमाज शांतिपूर्ण ढंग से हुई, अप्रिय घटना नहीं

श्रीनगर/जनदखल. जम्मू कश्मीर में फायरिंग की कथित खबरों के बीच गृह मंत्रालय ने कहा कि जम्मू कश्मीर में ईद के मौके पर नमाज शांतिपूर्ण ढंग से हुई। श्रीनगर और शोपियां में सभी प्रमुख मस्जिदों में लोग अच्छी खासी तादाद में घरों से निकले। जम्मू की ईदगाह में करीब 4500 लोग इकट्ठा हुए। वहीं अनंतनाग, बारामूला, बडगाम, बांदीपोरा में भी किसी तरह की अप्रिय घटना नहीं हुई। बारामूला की जामा मस्जिद में करीब 10 हजार लोग नमाज अदा करने पहुंचे।

श्रीनगर में नमाज के बाद एक बार फिर प्रतिबंधों में ढील खत्म कर दी गई। एक दिन पहले ही घाटी में कई स्थानों पर लोगों को ईद की खरीददारी के लिए छूट दी गई थी। हालांकि, मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया है कि रविवार सुबह से ही पुलिसकर्मी गाड़ियों से अलग-अलग इलाकों में गश्त कर रहे हैं और लोगों से जल्द घर लौटने की अपील कर रहे हैं। दुकानदारों से भी दुकान बंद रखने के लिए कहा गया है। मीडिया में सुरक्षा एजेंसियों द्वारा गोलीबारी और मौतों की खबरें हैं। पुलिस ने इस मामले की विस्तृत ब्रीफिंग की है। मैं इसे दोहराना चाहूंगा कि जम्मू-कश्मीर में कोई गोलीबारी की घटना नहीं हुई है। मैं आपको फिर से बता दूं कि सुरक्षाबलों की ओर से एक भी गोली नहीं चलाई गई है और न ही कोई मौत हुई है।

ईद की पूर्व संध्या पर, घाटी में प्रतिबंधों को कम करके लोगों को त्योहार के लिए खरीदारी करने की अनुमति दी गई थी। अधिकारी ने कहा कि जिला प्रशासन जम्मू-कश्मीर में स्थिति की लगातार समीक्षा कर रहा है और आंदोलन पर लगाए गए प्रतिबंध के दौरान लोगों को होने वाली असुविधा को कम करने की पूरी कोशिश कर रहा है। एक अन्य अधिकारी ने कहा कि सरकार ने कश्मीर घाटी में पर्याप्त भोजन और अन्य आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता की भी व्यवस्था की है और कुछ सामानों को यहां तक पहुंचाने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं।

Leave a Comment