Big news

मनाने के बाद भी अध्यक्ष पद छोडऩे पर अडिग हैं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल

नई दिल्ली/जनदखल. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के पार्टी अध्यक्ष के पद पर बने रहने की बढ़ती मांग के बावजूद वे अध्यक्ष पद छोडऩे पर अडिग हैं। कांग्रेस महासचिव के.सी.वेणुगोपाल ने गुरुवार को यह जानकारी दी। वेणुगोपाल ने मीडिया से कहा कि हम अभी भी उन्हें मनाने की कोशिश कर रहे हैं। देशभर के पार्टी कार्यकर्ता उन्हें पार्टी प्रमुख के पद पर बने रहते देखना चाहते हैं।

राहुल गांधी ने लोकसभा चुनावों में भारी हार के बाद कांग्रेस अध्यक्ष पद छोडऩे की घोषणा की थी। कांग्रेस को लोकसभा चुनावों में 52 सीटे मिली हैं। राहुल गांधी खुद उत्तर प्रदेश की अमेठी सीट से हार गए। हालांकि, वे केरल के वायनाड से लोकसभा के लिए निर्वाचित हुए। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्र वायनाड के समग्र विकास का खाका तैयार करने में मदद के लिए कांग्रेस और आईयूएमएल के 25 नेताओं को आमंत्रित किया है।

कांग्रेस अध्यक्ष द्वारा शुक्रवार को दिल्ली में उनसे मिलने के लिए जिन लोगों को बुलाया गया, उनमें प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मुल्लापल्ली रामचंद्रन, नेता प्रतिपक्ष रमेश चेन्निथला, वायनाड, कोझिकोड और मलप्पुरम जिलों के कांग्रेस अध्यक्ष शामिल हैं। कोझिकोड जिला कांग्रेस अध्यक्ष टी. सिद्दिक ने यहां कहा- राहुल गांधी ने इस बात का संकेत दिया है कि वह पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्र का क्रमबद्ध विकास चाहते हैं।

Leave a Comment