बिलासपुर कांग्रेस भवन में घुसकर पुलिसिया लाठी चार्ज कांग्रेस ने की न्यायिक जांच की मांग

रायपुर  /जनदखल /बिलासपुर में मंगलवार शाम पुलिस ने कांग्रेस भवन में घुसकर कांग्रेस के कार्यकर्ताअों पर जमकर लाठी चार्ज किया। यही नहीं कांग्रेसियों को पुलिस वालों ने घूंसे व लात से भी मारा। बताया गया है कि कांग्रेसी कमजोर सफाई व्यवस्था के खिलाफ मंत्री अमर अग्रवाल के खिलाफ प्रदर्शन करने उनके घर गए थे, वहां उन्होंने कचरा भी फेंका था। इस घटना को लेकर प्रदेश की सियायत गरमा गई है। कांग्रेस ने घटना की न्यायिक जांच की मांग की है। भूपेश बघेल शाम को बिलासपुर के लिए रवाना हो गए हैं।
 
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने मंगलवार शाम रायपुर में एक प्रेस कांफ्रेस करके इस घटना को लेकर सरकार के खिलाफ कड़ी नाराजगी जताई है। उन्होंने  बिलासपुर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर कांग्रेस भवन में घुसकर निहत्थे कांग्रेस कार्यकर्ताओं महिलाओं  एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं पर मुख्यमंत्री रमन सिंह के इशारे पर किये गये लाठीचार्ज की निंदा करते हुये कहा कि रमन सिंह का असली चेहरा उजागर हो गया है। 
 
जिस प्रकार झीरम में हमारे नेताओं की हत्या कराई गई थी और उसी प्रकार आज बिलासपुर के कांग्रेस भवन में शांतिपूर्वक बैठे हुए कार्यकर्ताओं के साथ बदसलूकी हुई, वहां महिलाओं को घसीट-घसीट कर पीटा गया, पार्टी के पदाधिकारियों पर लाठी से जानबूझकर सांघातिक वार किया गया, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री अटल श्रीवास्तव का सर फोड़ा गया जो शांतिपूर्वक खड़े हुये थे। 
 
रमन सिंह के पुलिस वालों ने लाठी से उनका सर फोड़ा और नीचे गिर जाने के बावजूद उन पर लगातार लाठियां बरसाई गयी। साथ ही वहां मौजूद सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं को बेदम पिटाई की गयी। थाने में ले जाकर भी कांग्रेस नेताओं को पीटा गया है। यह सब सीधे मुख्यमंत्री रमन सिंह के इशारे पर हुआ है। कार्यकर्ताओं को कांग्रेस भवन में घुसकर मारा गया है। उपस्थित मीडिया को चुनौती देते हुये कहा कि जिसको जो दिखाना है दिखाओं और लाठियां बरसाते रहे, जिसकी कांग्रेस पार्टी कड़ी निंदा करती है। 
 
छत्तीसगढ़ के इतिहास में पहले कभी भी किसी राजनीतिक दलों के कार्यालय में घुसकर पुलिस ने मारपीट नहीं की गई, महिलाओं तक को घसीट-घसीट कर पीटा गया है जिसकी हम निंदा करते हैं और न्यायिक जांच की मांग करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *